ओवैसी संगहि बिहार मे बनल नया गठबंधन, उपेंद्र कुशवाहा मुख्यमंत्री पद कें उम्मीदवार

विधानसभा चुनाव कें लेल बिहार मे एकटा नया गठबंधन बनल अछि। अहिमे असदुद्दीन ओवैसी केर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) आ मायावती केर बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) कें संगे समाजवादी दल डेमोक्रेटिक, जनतांत्रिक पार्टी सोशलिस्ट आ रालोसपा शामिल अछि।

0
404

विधानसभा चुनाव कें लेल बिहार मे एकटा नया गठबंधन बनल अछि। अहिमे असदुद्दीन ओवैसी केर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) आ मायावती केर बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) कें संगे समाजवादी दल डेमोक्रेटिक, जनतांत्रिक पार्टी सोशलिस्ट आ रालोसपा शामिल अछि। अहि गठबंधनक ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट नाम देल गेल अछि। रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा कें अहि गठबंधन कें मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित कयल गेल छथि। पटना मे भेल सभ’ दलक एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस मे एकर ऐलान कयल गेल।

अहि दौरान उपेंद्र कुशवाहा बतओलनि जे ई फ्रंट कें संयोजक देवेंद्र यादव रहता आ सभ’ दल एक संगहि चुनाव लड़त। कही दी जे देवेंद्र यादव केर पार्टी कें संग असदुद्दीन ओवैसी पहिने गठबंधनक ऐलान क’ देने छलाह। महागठबंधन सं अलग होबा आ एनडीएम मे शामिल होबाक नाकाम प्रयासक बाद उपेंद्र कुशवाहा सेहो अहिमे शामिल भ’ गेला।

उपेंद्र कुशवाहा कें अहि फ्रंट कें मुख्यमंत्री उम्मीदवारक रूप मे अपन समर्थन देलाक बाद ओवैसी कहलनि जे पिछला 30 सालक सरकार सं बिहारक कुनू लाभ नहि भेल अछि। ओवैसी कहलनि जे नीतीश कुमार आ बीजेपी कें 15 साल आ राजद कांग्रेस कें 15 सालक शासन कें बादो बिहारक गरीबक स्थिति जस कें तस अछि। राज्य सामाजिक, आर्थिक आ शिक्षाक क्षेत्र मे अखनो पीछरल अछि। हम बिहारक भविष्य कें लेल ई गठबंधन कें बनेलौ आ हमर प्रयास रहत जे हम सफल होय।

अहि मौका पर उपेंद्र कुशवाहा कहलनि जे बिहार मे महागठबंधन आ एनडीए दुनू फेल अछि। नीतीश कुमार कें 15 सालक शासन मे राज्य और पीछा भ’ गेल अछि। कुशवाहा कहलनि जे नीतीश कुमार बिहारक शिक्षा व्यवस्था कें चौपट क’ देने छथि। पलायन कें लेल युवा अखनो मजबूर छथि।

अहाँ अपन विचार लिखु

एतय अहाँ अपन विचार दियौ!
दया कय एतय अहाँ अपन नाम लिखू