श्रृंगार गौरी विवाद LIVE: सर्वेके लेल एडवोकेट कमिश्नर पहुँचल ज्ञानवापी मस्जिद, सुरक्षा कड़गर

0
254

श्रृंगार गौरी मामला मे एडवोकेट कमिश्नर आ दुनू पक्ष क वकील ज्ञानवापी मस्जिद क सर्वे क लेल पहुंचल अछि। एहि सर्वेक्षण लेल पुलिस-प्रशासन सुरक्षा क कड़ा व्यवस्था केलक अछि।

यूपीके धार्मिक नगरी वाराणसीके श्रृंगार गौरी मामलामे आइ ज्ञानवापी मस्जिदके सर्वे सुरु भेल अछि । सर्वेक्षण लेल अधिवक्ता आयुक्त, हुनकर सहायक, वादी आ प्रतिवादीक संग-संग दुनू पक्षक वकील सेहो सर्वेक्षण लेल ज्ञानवापी मस्जिद परिसर मे प्रवेश कएने छथि। सर्वेक्षणक लेल मस्जिद परिसर मे प्रवेश करनिहार सभ लोकक मोबाइल जमा क’ देल गेल अछि।

एहिसँ पूर्व भोर करीब 7.35 बजे कोर्ट द्वारा नियुक्त अधिवक्ता आयुक्त चौक थानासँ बाहर आबि गेलाह। अधिवक्ता आयुक्तक संग विशेष आयुक्त आ सहायक आयुक्त सेहो छलाह। कड़ा सुरक्षाक बीच एडवोकेट कमिश्नर आ अन्य लोकनि सर्वेक्षणक लेल ज्ञानवापी मस्जिद पहुँचलाह। एहि मामला मे वादी पक्ष क अग्रणी विश्व वैदिक सनातन संघ क मुखिया जितेन्द्र सिंह बिसेन सेहो अपन वकील शिवम गौर क संग चौक थाना होइत काशी विश्वनाथ मंदिर क गेट नंबर चार पहुंच चुकल छथि। एहि मामला मे वादी सभ विश्वनाथ मंदिर क गेट नंबर चारि पर सेहो पहुंच गेल छथि। वादी सबहक वकील सेहो हुनका संग छथि।

मुस्लिम पक्ष के वकील सेहो ज्ञानवापी मस्जिद पहुंच चुकल छथिन्ह. मस्जिद क सर्वे क दौरान कोनो तरह क बाधा नहि हेबाक चाही, प्रशासन एकरा ल क पूर्ण सतर्क अछि। बुलानालासँ विश्वनाथ मन्दिर जाएबला बाटमे किनको पैदले तक नहि चलबाक अनुमति अछि। पुलिस प्रशासन सुरक्षाक कड़ा व्यवस्था केलक अछि। पूरा इलाका सील क देल गेल अछि।

विश्वनाथ मंदिर क गेट नंबर चार स पहिने कई ठाम मीडिया सेहो रोकल गेल अछि। ज्ञानवापी मस्जिद के आसपास प्रशासन भारी पुलिस बल के सेहो तैनात केलक अछि। ज्ञातव्य अछि जे सर्वेक्षण जारी रखबाक आदेश दैत सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर सेहो प्रशासन केँ आदेश निष्पादित करबाक निर्देश देने छलाह।

कोर्ट के आदेश के बाद वाराणसी के प्रशासनिक अधिकारी सक्रिय मोड में आबि मुस्लिम पक्ष के संग बैसार केलक। वाराणसीके प्रशासनिक अधिकारी आ मुस्लिम पक्षके जनताके बीच भेल बैसारमे सर्वेक्षणके सम्बन्धमे सहमति भेल छल । मुस्लिम पक्षक संग बैसारक बाद जिला मजिस्ट्रेट सर्वेक्षणक तिथि आ समयक घोषणा कएने छलाह। सर्वेक्षण क आदेश कए सुप्रीम कोर्ट मे अंजुमान इनाजनिया मसाजिद कमेटी चुनौती देलक अछि। सुप्रीम कोर्ट मसाजिद कमेटी क याचिका पर तत्काल राहत देबा स इनकार क देने छल।