शंघाई अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनी मे लागल मिथिला पेंटिंग्स, चीन केलनि प्रशंसा -Madhubani Painting

चीन केर प्रतिष्ठित 10वा अंतरराष्ट्रीय पारंपरिक कला प्रदर्शनी क’ आयोजन शंघाका ई कला संग्रहालय मे 11 जून क’ कयल गेल छल. अहिमे चीन आ भारत कें संगे जापान, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ईरान आ अमेरिका केर कलाकृति क’ प्रदर्शित कयल गेल.

चीन केर प्रतिष्ठित 10वा अंतरराष्ट्रीय पारंपरिक कला प्रदर्शनी क’ आयोजन शंघाका ई कला संग्रहालय मे 11 जून क’ कयल गेल छल. अहिमे चीन आ भारत कें संगे जापान, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ईरान आ अमेरिका केर कलाकृति क’ प्रदर्शित कयल गेल.

अहि अवसर पर विश्व प्रसिद्ध मधुबनी चित्रकला (मिथिला पेंटिंग्स) क’ भारत केर ओर सं प्रदर्शित कयल गेल. अहिमे भगवान शिव-पार्वती आ राष्ट्रीय पक्षी मोर कें चित्रक कलाप्रेमी, विदेशी आ चीनी लोक एकर विशेष रूप सं प्रशंसा केलनि.

अहि अवसर पर मीडिया सं बात करैत शंघाई मे भारत कें कॉन्सुल जनरल अनिल राय सांस्कृतिक धरोहर आ कला क’ संजोबाक आ एकर माध्यम सं एक दूसर क’ समझाबय पर विशेष जोर देलनि.

ई प्रदर्शनी कें संगहि एक निवेश पर चर्चा सेहो आयोजित कयल गेल छल. अहि अवसर पर अनिल राय महामारी सं निपटबाक हेतु अर्ली वार्निंग सिस्टम (early warning system), मानवता केर स्वास्थ्य सुरक्षा आ आबय वला चुनौति सं निपटान मे उपयोगी विषय पर निवेश केंद्रित करबाक आवश्यकता पर जोर देलनि.