सोमदिन सं सावन माष शुरू भ’ रहल अछि। कोरोना महामारी कें चलते एहतियातन शिवालय आ मंदिर मे ताला लगा देल गेल अछि। एना में अहि बेर नै त’ बोलबम कें जयघोष करैत कांवड़िया रास्ता मे दिखत आ नै शिवालय मे सार्वजनिक रूप सं जलाभिषेक क’ सकेत छी।

कोरोना संक्रमण सं बचबाक लेल प्रशासन जलाभिषेक पर रोक लगा रखने अछि। सावन मेला कें आयोजन सेहो नै होयत। एना मे भोला भक्त घर पर बाबा केर पूजा अर्चना करता। जखन किछू मंदिर मे गेट बंद राखल जायत पर बाहर सं अरघा सं श्रद्धालु जलाभिषेक क’ सकता। पटना सहित सूबे कें प्रमुख शिवालय सोनपुर कें हरिहरनाथ, मुजफ्फरपुर कें गरीबनाथ, कुशेश्वरनाथ, सिंहेश्वरनाथ, बैकटपुर शिवमंदिर मे श्रद्धालु आ कांवड़ि केर भीड़ नै देखल जायत।

कर्मकांड विशेषज्ञ पं. विपेंद्र झा माधव कें मुताबिक अहि बेर सावन माष केर शुरुआत शिववास आ सोमवारी सं शुरू भ’ रहल अछि जे अति शुभ अछि। सोमदिन 6 जुलाई क’ सुबह 9.02 बजे तक शिववास अछि। मान्यता अछि जे शिववास मे भगवान शिव आ पार्वती उपस्थित रहैत छथि। अहि दौरान भोलेनाथ कें पूजन,जलाभिषेक,रुद्राभिषेक अति फलदायी रहत। सावन मास शिव कें बहुत प्रिय होयत अछि पर सावन केर सोमवारी आर प्रिय छनि। अहि लेल सावन केर सोमवारी क’ व्रत-पूजन, जलाभिषेक,रुद्राभिषेक आदि सं हुनकर कृपा अधिक मिलैत अछि। सभ’ तरहक बाधा दूर होयत अछि आ रोग सं मुक्ति मिलैत अछि।