पीएम मोदी कहलनि जे लॉकडाउनक चौथा चरण, लॉकडाउन 4, पूर्ण रूप सं नया रंग रूप बला होयत। एहि मे किछु नव नियम लागू रहत. ओ कहलनि, राज्य सब सं हमरा जे सुझाव मिल रहल अछि, ओकर आधार पर लॉकडाउन 4 सं जुड़ल जानकारी सेहो अहाँ सब कें 18 मई सं पहिने द’ देल जायत।

पीएम मोदी केलनि 20 लाखक आर्थिक पैकेज केर ऐलान

पीएम मोदी कहलनि, भारत आत्मकेंद्रित व्यवस्था केर वकालत नै करैत अछि। पीएम मोदी कहलनि जे विश्वक सामने भारतक मूलभूत चिंतन, आशा केर किरण नजरि आबि रहल अछि. भारतक संस्कृति, भारतक संस्कार, ओ आत्मनिर्भरता केर बात करैत अछि जकर आत्मा वसुधैव कुटुंबकम अछि. पीएम मोदी कहलनि जे भारत जखन आत्मनिर्भरता केर बात करैत छै, त’ आत्मकेंद्रित व्यवस्थाक वकालत नै करैत अछि. भारत केर आत्मनिर्भरता मे संसार केर सुख,सहयोग आ शांतिक चिंता होइत अछि.

आर्थिक पैकेज देत देशक विकास यात्रा कें नव गति

पीएम मोदी कहलनि जे एहि सब माध्यम सं देशक विभिन्न वर्ग कें, 20 लाख करोड़ टाका केर संबल भेटत, सपोर्ट मिलत. 20 लाख करोड़ रुपया केर ई पैकेज, 2020 मे देशक विकास यात्रा कें आत्मनिर्भर भारत अभियान संग एकटा नबका गति देत.

पैकेज केर घोषणा: Land, Labour, Liquidity आ Laws पर जोर

पीएम अपन संबोधन मे कहलनि जे आत्मनिर्भर भारतक संकल्प कें सिद्ध करबा लेल, एहि पैकेज मे Land, Labour, Liquidity आ Laws सब पर बल देल गेल अछि. ई आर्थिक पैकेज अपन कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, अपन लघु-मझिला उद्योग, MSME कें लेल अछि, जे करोड़ो लोगक आजीविकाक साधन अछि, जे आत्मनिर्भर भारतक अपन संकल्प लेल मजबूत आधार अछि.

एहि आपदा मे भारत लेल कतेको संकेत अछि

पीएम मोदी कहलनि, जखन अपने अहि दुनू कालखंड कें भारतक नजरिया सं देखैत छी त’ लगैत अछि जे 21वीं सदी भारतक अछि, ई अपन सपना नै, ई अपना सबहक जिम्मेदारी अछि. विश्व केर आजुक स्थिति अपना सब कें स्मरण करबैत अछि जे एकटा मार्ग अछि- ‘आत्मनिर्भर भारत’.