प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशवासी सब सं लॉकडाउन कें देखैत संबोधित केलनि। पीएम मोदी अपन संबोधन मे लॉकडाउन 2.0 केर एलान केलनि। पीएम कहलनि जे अखन देश मे तीन मइ तक लॉकडाउन जारी रहत। कही दी जे राज्य आ केंद्र शासित प्रदेशक अधिकतर मुख्यमंत्री सब पीएम मोदी सं देश मे लॉकडाउन केर अवधि बढ़यबाक लेल अपील केने छलाह। 

संबोधनक केर मुख्य बात एतय देखल जा सकैत अछि:

पीएम मोदी कहलनि, सबहक इहए सुझाव अछि जे लॉकडाउन कें बढ़ा देल जाय। बहुत राज्य त’ पहिने लॉकडाउन कें बढ़यबाक फैसला क’ चुकल छै.ओ आगू कहलनि, ‘सबहक सुझाव कें ध्यान मे रखैत ई फैसला कयल गेल अछि जे भारत मे लॉकडाउन कें आब 3 मइ तक बढ़ाओल जा रहल अछि। 3 मइ तक अपना सब कें फेर लॉकडाउने मे रहबाक अछि। एहि दौरान अपना सब कें अनुशासनक ओहिना पालन करबाक अछि ,जेना अपना सब करैत छलहुं।

पीएम मोदी कहलनि, ‘हम सब धैर्य बना क’ राखि, नियम केर पालन करी ताहि सं कोरोना जेहन महामारी कें परास्त कएल जा सकत। अंत मे, पीएम मोदी कहलनि जे हम आइ 7 बिन्दु अहाँ सबहक सोझां राखि रहल छी।

पहिल बात – अपन घरक बुजुर्गक विशेष ध्यान राखी, खास क’ एहन व्यक्ति जिनका पहिने सं पुरान बीमारी होयत, हुनका सब कें बेसी देखभाल करबाक अछि, हुनका सब कें कोरोना सं बहुत बचा क’ रखबाक अछि।

दोसर बात – लॉकडाउन और सामाजिक दूरी केर लक्ष्मण रेखा कें पूर्ण रूप सं पालन करबाक अछि, घर मे बनल फेसकवर या मास्क केर अनिवार्य रूप सं उपयोग करी।

तेसर बात – अपन इम्यूनिटी बढ़यबाक लेल आयुष मंत्रालय द्वारा देल गेल निर्देशक पालन करी, गरम पानि और काढ़ा केर निरंतर सेवन करी।

चारिम बात – कोरोना संक्रमणक फैलाव रोकबा मे मदद करबाक लेल आरोग्य सेतु मोबाइल एप जरूर डाउनलोड करू। दोसरो सब कें ई एप डाउनलोड करबाक लेल प्रेरित करी।

पाँचम बात – जतेक संभव हो, गरीब परिवार केर देखभाल करी, हुनकर भोजनक आवश्यकता पूर्ण करी।

छठम बात – अहां अपन व्यवसाय अपन उद्योग मे संग काम करैत लोकक प्रति संवेदना राखी आ ककरो नौकरी सं नै निकाली।

सातम बात – देश केर कोरोना योद्धा, अपन डॉक्टर, नर्सक, सफाइ कर्मचारी आ पुलिसकर्मी सबहक पूरा सम्मान करी। 

पूर्ण निष्ठा संग 3 मइ तक लॉकडाउनक नियमक पालन करी, जतय छी ओतहि रही, सुरक्षित रही।