लॉकडाउन मे मोदी सरकार देलनि किसान कें उपहार, 14टा फसल मे 50-83% ज्यादा मिलत दाम

0
41

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कें अध्यक्षता मे केंद्रीय मंत्रीमंडल केर बैठक भेल छल. दूसर कार्यकाल कें एक साल पूरा भेलाक बाद ई पहिल कैबिनेट बैठक छल. अहि बैठक मे बहुतरास महत्वपूर्ण फैसला लेल गेल, जाहिमे कठिन दौर सं गुजर रहल MSME सेक्टर केर हालत दुरुस्त करबाक लेल 20 हजार करोड़ लोन कें प्रस्तावक मंजूरी मिलल. ओतय, किसान कें राहत पहुंचबाक लेल सरकार 14टा फसल मे 50 सं 83 फीसदी तक ज्यादा दाम देबाक फैसला केलनि अछि.

कैबिनेट बैठक कें बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस मे केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्रfarmers तोमर कहलनि जे न्यूनतम समर्थन मूल्य मे बहुत बढ़ोतरी कयल गेल अछि . किसान कें लेल सरकार तरफ सं ई बड़का ऐलान अछि. मक्का कें समर्थन मूल्य मे 53 फीसदीक बढ़ोतरी कयल गेल अछि. तूअर आ मूंग मे सहो 58 फीसदी केर बढ़ोतरी कयल गेल अछि. तोमर कहलनि जे 14टा फसल एहन अछि, जाहिमे किसान सब कें 50 सं 83 फीसदी तक ज्यादा समर्थन मूल्य देल जायत.

केंद्रीय कृषि मंत्री कहलनि जे ब्याज छूट योजना कें तहत 31अगस्त तक जे किसान अपन ऋण अदायगी करता, हुनका 4% ब्याज पर सेहो कर्जा मिलत. अखन धरि सरकार 360 लाख मिट्रिक टन गेहूं, 95 लाख मिट्रिक टन धान आ 16.07 लाख मिट्रिक टन दाल खरीदी केलनि .

ओतय, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर कहलनि जे किसान केर फसलक न्यूनतम समर्थन मूल्यक कुल लागत कें डेढ़ गुना ज्यादा रखबाक वादा सरकार पूरा को रहल अछि. खरीफ फसल 20-21 कें 14टा फसल कें न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी को देल गेल अछि. ई 14टा फसल पर किसान केर लागत कें 50-83% तक ज्यादा दाम हासिल होयत.

कमजोर उद्योग केर उभारो कें लेल 4 हजार करोड़क फंड

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी कहलनि जे देश मे 6 करोड़ MSME अछि. MSME सं देश मे 11 करोड़ से ज्यादा नौकरी मिलल अछि. 25 लाख MSME कें पुर्नगठन केर उम्मीद अछि. छोट सेक्टर मे टर्नओवर सीमा 50 करोड़ कयल गेल अछि. गडकरी आगू कहलनि MSME अखन कठिन दौर सं गुजर रहल अछि. 2 लाख MSME नबका फंड सं शुरू कयल जायत. कमजोर उद्योग केर उभारो कें लेल 4 हजार करोड़ कें फंडक मंजूरी मिलल अछि.