क्रेडिट कार्ड लेबय सं पहिने अहाँके जनबाक चाहि ई 5 बात, नै त’ होयत नुकसान

नकदी कें जगह पर क्रेडिट कार्ड बहुत उपयोगी साबित होयत अछि। एकर मदद सं यात्रा कें दौरान कैश संगे ल’ चलबाक आवश्यकता नै होयत अछि। बीतल किछू वर्ष मे क्रेडिट कार्ड कें चलन तेजी सं बढ़ाल अछि. क्रेडिट कार्ड कें महत्वा क’ देखैत, एकर यूजर केर संख्या तेजी सं बढ़ी रहल अछि।

नकदी कें जगह पर क्रेडिट कार्ड बहुत उपयोगी साबित होयत अछि। एकर मदद सं यात्रा कें दौरान कैश संगे ल’ चलबाक आवश्यकता नै होयत अछि। बीतल किछू वर्ष मे क्रेडिट कार्ड कें चलन तेजी सं बढ़ाल अछि. क्रेडिट कार्ड कें महत्वा क’ देखैत, एकर यूजर केर संख्या तेजी सं बढ़ी रहल अछि। अहाँ क्रेडिट कार्ड अपन जरूरत कें हिसाब सं चुनू। यदि अहाँ सेहो क्रेडिट कार्ड कें लेल अप्लाई क’ रहल छी त’ किछू जरूरी बात पर ध्यान दी। हम ई खबर मे अहाँके बता रहल छी जे क्रेडिट कार्ड लेबैत समय अहाँके कुन-कुन बात क’ ध्यान रखबाक चाहि…

क्रेडिट कार्ड फीस: ज्यादातर क्रेडिट कार्ड कंपनी वार्षिक शुल्क लैत अछि, परन्तु किछू कंपनी एहन अछि जे, जाहि वर्ष न्यूनतम राशि खर्च करय पर कोनो शुल्क नै लैत अछि। त’, एहन कंपनी कें क्रेडिट कार्ड चुनि जे न्यूनतम शुल्क वसूलयत होय।

डिस्काउंट/कैश बैक: क्रेडिट कार्ड कें जरिये खरीदारी करबाक जेना ऑनलाइन शॉपिंग, मूवी टिकट बुकिंग, फ्लाइट टिकट बुकिंग आदि कें बिल भुगतान पर डिस्काउंट आ कैश बैक ऑफर मिलयत अछि। अहि लेल एहन क्रेडिट कार्ड चुनि जाहि पर ज्यादा सं ज्यादा ऑफर आ डिस्काउंट मिलयत होय।

रिवॉर्ड प्वाइंट: क्रेडिट कार्ड कें खर्च कें आधार पर ज्यादतर क्रेडिट कार्ड रिवॉर्ड प्वाइंट दैत अछि। जकरा कैश मे आ नॉन मॉनेटरी गिफ्ट मे बदलल जा सकेत अछि। जखन, रिवॉर्ड प्वाइंट कार्ड अलग-अलग होयत अछि।

नकद निकासी शुल्क: क्रेडिट कार्ड कें जरिए ATM सं नकद निकासी पर शुल्क आ ब्याज लगैत अछि। अहि लेल अहाँ एहन क्रेडिट कार्ड चुनि जे नकद निकासी पर न्यूनतम ब्याज आ शुल्क लैत होय।

कस्टमर केयर सेव: क्रेडिट कार्ड कें लेल अप्लाई करय सं पहिने बैंक आ क्रेडिट कार्ड कंपनी केर ग्राहक सेवा कें बारे मे पूछताछ करबाक चाहि। कियैक आइ-कइल क्रेडिट कार्ड क’ ल’ धोखाधड़ी कें मामला लगातार बढ़ी रहल अछि। अहि लेल निक कस्टमर सर्विस भेनाइ जरूरी अछि। भविष्य मे, अगर अहाँ कें क्रेडिट कार्ड सं संबंधित कोनो समस्या होयत अछि आ कस्टमर सर्विस निक नै अछि त’ फेर अहाँ कें परेशानी भ’ सकेत अछि।