गृह मंत्री अमित शाह वर्चुअल रैली मे ई घोषणा केलनि जे नीतीश कुमार कें नेतृत्व मे बिहारक चुनाव लड़ल जायत. ओ कहलनि जे आबय वला दिन मे बिहार मे चुनाव अछि. हमर मानना अछि जे नीतीश कुमार जी कें नेतृत्व मे एनडीए दू तिहाई बहुमत कें संग सरकार बनाओत, परन्तु ई राजनीति केर समय नै अछि. हम सभ’ क’ मोदी जी कें नेतृत्व मे कोरोनावायरस सं लड़बाक चाहि. ओ कहलनि जे पार्टी केर उम्मीद अछि जे अगला विधानसभा चुनाव मे नीतीश कुमार कें नेतृत्व मे 2 तिहाई बहुमत सं एडीए केर जीत मिलत.

अमित शाह कहलनि जे नीतीश जी आ सुशील जी दुनू प्रसिद्धि करय मे कनि कच्चा छथ. ओ रोड पर थाली नै बजबैत छथ, ओ चुपचाप सहायता कें लेल काज करय वला लोक छथ. नीतीश जी आ सुशील जी कें नेतृत्व मे बिहार सरकार बहुत निक सं ई लड़ाई लड़ रहल अछि.

ओ कहलनि जे हम परिवारवादी लोक क’ आइ कहै छी जे अपन चेहरा आईना मे देख लिओ, 1990-2005 हिनकर शासन मे बिहार केर विकास दर 3.19 प्रतिशत छल, आइ नीतीश जी कें नेतृत्व मे ई 11.3 प्रतिशत तक विकास दर पहुंचबाक काज एनडीए केर सरकार केलनि अछि.

ओ कहलनि जे बिहार मे हम लालटेन युग सं LED युग तक आयल छी. लूट एंड ऑर्डर सं लॉ एंड ऑर्डर तक केर यात्रा हम सब केने छी. जंगल राज सं जनता राज तक हम आयल छी. बाहुबल सं विकास बल तक आयल छी आ चारा घोटाले सं डीबीटी तक केर यात्रा मोदी जी कें नेतृत्व मे सफलतापूर्वक तय केने छी. ओ कहलनि जे बिहार कें लिए जे 1.25 लाख करोड़ रुपयाक पैकेज हम देने छनाउ त’ ओकरा हम सब वास्तविकता मे बदलबाक काज केने छी.

अमित शाह कहलनि जे नरेंद्र मोदी जी अखने गत कैबिनेट मे निर्णय लेलैन जे ‘एक देश-एक राशन कार्ड’. बिहार, उत्तर प्रदेश, ओडिशा कें मजदूर देशक कोनो हिस्सों मे काज करैत अछि. अहि सं आब श्रमिक भाई-बहन अपन हिस्साक राशन, देश मे कोनो स्थान पर रहता ओतय स ल’ सकता.

गृह मंत्री कहलनि हम आइ ई मंच सं कहे चाहैत छी जे देशक कोनो हिस्सा चाहे मुंबई, दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, कर्नाटक, तमिलनाडु हो, जे विकसित अछि एकर नींव मे जायब त हमर बिहारक प्रवासी मजदूरक पसीने केर महक आबैत अछि. बिहारक व्यक्ति कें पसीना ई देशक विकासक नींव मे अछि.