बिहार मे कोरोना कें संक्रमण तेजी सं बैढ़ रहल अछि। शुक्रदिन राज्य मे रिकॉर्ड 1742 नबका मामला सामने आयल अछि। एकरा संगे संक्रमितक कुल संख्या 23 हजार कें पार भ’ गेल अछि। शुक्रदिन कें जारी भेल स्वास्थ्य विभागक रिपोर्टक अनुसार, बिहार मे नव संक्रमण कें मामला मे ई अखन धरि सर्वाधिक संख्या अछि। स्वास्थ्य मंत्रालय कें संयुक्त सचिव लव अग्रवाल कें नेतृत्व मे बिहार मे कोरोना सं उत्पन्न स्थितिक जानकारी लेबाक लेल एक उच्च स्तरीय टीम रैबदिन बिहार आयत।

अहि टीम मे नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल कें डायरेक्टर डॉ. एस के सिंह, एम्स मेडिसिन कें एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. नीरज निश्चल शामिल रहता। एकरा पूर्व एकटा अन्य केंद्रीय टीम कें बिहार भेजल गेल अछि, जे राज्य सरकार कें अधिकारि कें संग कोरोनाक जांच आ इलाज सं जुड़ल जानकारी ल’ रहल अछि। शुक्रदिन केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे बिहार मे कोविड-19 कें वर्तमान स्थिति कें ल’ स्वास्थ्य सचिव, विशेष कार्य अधिकारी तथा संयुक्त सचिव कें संगे अलग-अलग बैठक केलनि। बैठक कें उपरांत संयुक्त सचिव कें नेतृत्व मे टीम भेजबाक निर्णय लेल गेल ,जाहिसँ राज्य कें अधिकारि कें संगे कोविड -19 केर वर्तमान स्थिति कें ल’ व्यापक कदम उठाओल जा सकत। बैठक मे स्वास्थ्य सचिव प्रीति सुदान, विशेष कार्य अधिकारी राजेश भूषण तथा संयुक्त सचिव लव अग्रवाल उपस्थित छला।

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री बतओलनि जे केंद्र आ राज्य सरकार संगे कोविड-19 केर रोकथाम कें लेल सभ’ महत्वपूर्ण कदम उठाओल गेल अछि। मंत्रालयक नजैर बिहारक स्थिति पर अछि। अतय कें आला अधिकारी लगातार संपर्क मे रहैत अछि। वर्तमान स्थिति कें ल’ स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा एकटा टीम बिहार पहुंच चुकल अछि। दूसर उच्च स्तरीय टीम कें गठन क’ देल गेल अछि , जे रैबदिन पहुँचात। ई टीम रैबदिनक भोर संयुक्त सचिव लव अग्रवाल कें नेतृत्व मे पहुंचत।