पूरा बिहार मे फेर सं लॉकडाउन भ’ सकेत अछि। राज्य सरकार एहि प्रस्ताव पर गंभीर रूप सं विचार क’ रहल अछि। एकर मंगलदिन क’ फैसला लेल जायत। लॉकडाउन 31 जुलाई धरि भ’ सकेत अछि।

संक्रमणक चेन क’ तोड़बाक आ प्रसार रोकबाक प्रयास

मुख्य सचिव दीपक कुमार सोमदिन कहलनि जे पूरा राज्य मे लॉकडाउन लगाबय पर मंगलदिन निर्णय लेल जायत। राज्य मे पटना समेत बहुत जिला मे लागू लॉकडाउन कें आर व्यापक रूप देबय पर सरकार कें तैयारी अछि, जाहिसँ संक्रमणक चेन क’ तोरबाक संगे एकर प्रसार कें सेहो रोकल जा सकत। ज्ञात होय जे बिहार समेत पूरा देश मे 24 मार्च केर राइत सं 31 मई धरि पूर्ण लॉकडाउन रहल। एकरा बाद जून मे अनलॉक-1 आ फेर जुलाई मे अनलॉक-2 लागू भेल छल।

जिला न्यायाल मे एक सप्ताह धरि केकरो प्रवेशक अनुमति नै


राज्य कें सभ’ जिला न्यायाल मे एक सप्ताह धरि केकरो प्रवेशक अनुमति नै अछि। सभ’ न्यायिक कार्य वीडियो कान्फ्र्रेंंसग सं होयत। चाहे ककरो रिमांड करबाक होय या रिलीज करबाक होय। सभ’ न्यायिक अधिकारी अपन आवास सं न्यायिक कार्य करता। अहि आशयक निर्देश पटना हाइकोर्ट कें महानिबंधक सूबे कें सभ’ जिला जज कें देलनि अछि।

कटिहार जिला मे आइ सं 20 धरि लॉकडाउनक घोषणा


कटिहार/लखीसराय। कहिटार जिला मे कोरोना संक्रमितक संख्या बढ़बाक कारण जिलाधिकारी कंवल तनुज 14 सं 20 जुलाई धरि लॉकडाउनक घोषणा केलनि अछि। लखीसराय मे सोमदिन सं लॉकडाउन लागू क’ देल गेल अछि। अगला एक सप्ताह 19 जुलाई तक जिला कें विभिन्न हिस्सा मे लॉकडाउन जारी रहत।

बैढ़ रहल संक्रमितक संख्या


बीतल एक हफ्ता मे कोरोना संक्रमित केर संख्या लगातार बढ़बाक कारण अहि मसला पर विचार कयल जा रहल अछि। जखन जांच कें दायरा बढ़बा आ बेसि संख्या मे जांच होबाक कारण सेहो संक्रमितक संख्या बढ़ल अछि। अखन छिटपुट रूप सं बहुत जिला मे स्थानीय प्रशासन लॉकडाउन दू सं सात दिन कें लेल लागू केने अछि। पटना मे 16 जुलाई धरि लॉकडाउन अछि।

स्वस्थ होबय कें दर राष्ट्रीय औसत सं बेसि


पिछला दू दिन सं राज्य मे रोज एक हजार सं अधिक कोरोना संक्रमित राज्य मे मिलल अछि। जखन बिहार मे कोरोना संक्रमित कें ठीक होबाक दर अखन 71 प्रतिशत अछि, जे राष्ट्रीय औसत सं बहुत निक अछि। ओतय, 12,364 कोरोना कें मरीज ठीक भ’ घर सेहो लौट आयल छथि। एकरा बावजूद सरकार एहतियातन पूरा राज्य मे लॉकडाउन पर विचार क’ रहल अछि।