बिहार सरकार कें एकटा आओर लापरवाही सामने आयल अछि. दरअसल, केंद्र सरकार बिहार सरकार सं अतिरिक्त राशन कार्ड धारक केर लिस्ट मांगने छल, जे अखन धरि राज्य दिस सं नहि आयल अछि. लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) केर सांसद चिराग पासवान नीतीश सरकारक लापरवाही कें ल’ एक कें बाद एक बहुते ट्वीट केने अछि.

सांसद चिराग पासवान लिखलनि, ’14 लाख बिहारीक केर नाम बिहार सरकार कें राशन कार्ड धारक केर सूची मे जोरबाक छल, ताकि हुनको सब कें केंद्र सरकार द्वारा अतिरिक्त राशन केर लाभ मिल सकत. प्रदेश सरकार अखनि तक नाम केंद्र कें नहीं भेजलक, जाहि सं बिहार मे बहुत परिवार मे भुखमरीक स्थिति आयब गेल अछि.

‘चिराग पासवान कहलनि, ‘लॉकडाउन मे केंद्र सरकार तमाम प्रदेश सं बचल लगभग 39 लाख राशन कार्ड धारक केर सूची कें जल्द भेजबा लेल कहने छल, जाहि मे सं 14.5 लाख बिहार केर लाभार्थी छै. केंद्रक निरंतर प्रयास केर बादो बिहार सरकार अखन धरि सूची नहि भेजने अछि, जाहि कारण सं लगभग 14.5 लाख बिहारवासी कें राशन मुहैया करबा मे परेशानी बनल अछि.

नीतीश सरकार सं अपील करैत चिराग पासवान कहलनि, ‘‪बहुत रास साथी जिनकर नाम राशन कार्ड लिस्ट मे नहि छल, ओ सब काफी दिक्कत मे छथि. बिहार मे लगभग 14.5 लाख लोक कें अहि सं जोड़बाक छल, लिस्ट नहि भेटला सं कतेको लोक कें राशनक लाभ नहि मिल पाबि रहल अछि. हमरा विश्वास अछि, जल्द सीएम नीतीश कुमार एहि पर कदम उठओताह.’

लॉकडाउन मे प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजनाक तहत राशन कार्ड धारक मे राशन बंटबाक अछि, परंतु बहुत रास लोक लग राशन कार्ड नहि छल. एकर बाद केंद्र सरकार राज्य सं अतिरिक्त राशनकार्ड धारक केर लिस्ट मांगने छल, ताकि हुनका हुनक हिस्साक खाद्यान्न राज्य कें भेजल जा सकत.