बिहार विधानसभा चुनाव सं पहिने केंद्रक मोदी सरकार बिहार वासि कें एकटा पर एकटा उपहार दैत जा रहल अछि। अहि बीच मे मोदी सरकार एकटा आर बड़का उपहार देलक। मोदी कैबिनेट दरभंगा मे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) कें मंजूरी द’ देने अछि।

एकरा संगहि बिहार मे पटनाक बाद दोसर एम्स बनबाक रास्ता साफ भ’ गेल अछि। दरभंगा मे एम्स कें निर्माण सं सूबे मे उत्तर बिहारक बेतिया सं ल’ कोसी आ सीमांचल कें सहरसा, सुपौल आ पूर्णियां धरि कें लोकक स्वास्थ्य क्षेत्र मे एकर फायदा होयत। एकरा संगहि पटना पर लोकक निर्भरता सेहो घटत।

केंद्रीय वित्त मंत्रालय 1361 करोड़ रुपयाक मंजूरी पहिने द’ देने छल
बिहारक दरभंगा मे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) कें निर्माण कें ल’ केंद्रीय वित्त मंत्रालय 1361 करोड़ रुपयाक मंजूरी पहिने द’ देने छल। बीतल 25 अगस्त कें केंद्रीय वित्त सचिवक अध्यक्षता मे भेल व्यय वित्त समितिक बैठक मे स्वास्थ्य मंत्रालयक प्राइमरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट पर वित्त मंत्रालय मुहर लगबैत अनुमानित राशिक स्वीकृति द’ देलक। प्राइमरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट कें अनुसार दरभंगा एम्स 750 बेड कें होयत आ एकर निर्माण कार्य पर 1361 करोड़ खर्च होयत।

जमीन कें ल’ अटकल छल मामला
दरभंगा मे प्रस्तावित जमीनक उपलब्धताक कारण मामला अटकल छल। बिहार सरकारक ओर सं प्रस्तावित जमीनक गुणवत्ता वा रास्ताक सुगमता सहित तीन बिन्दु पर मंत्रालयक तकनीकी कमेटी एकर स्वीकृति पर रोक लगा देने छल। एकरा बाद मे सभ’ तकनीकी बाधा दूर कयल गेल।

एकटा जबाब दिय

कृपया अहाँ कमेंट करू
कृपया एतय अहाँ अपन नाम लिखु