चुनाव सं पहिने नीतीशक दलित कार्ड, एससी-एसटी कें भेटत नौकरी

बिहार कें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विधानसभा चुनाव सं पहिने एकटा बड़का दलित कार्ड खेलनि. ओ अधिकारि कें एहन प्रावधान बनेबाक निर्देश देलनि जे कोनो अनुसूचित जाति-जनजाति केर हत्या होबय सं हुनक परिवार कें कोनो एक सदस्य कें सरकारी नौकरी देल जायत.

0
301

बिहार कें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विधानसभा चुनाव सं पहिने एकटा बड़का दलित कार्ड खेलनि. ओ अधिकारि कें एहन प्रावधान बनेबाक निर्देश देलनि जे कोनो अनुसूचित जाति-जनजाति केर हत्या होबय सं हुनक परिवार कें कोनो एक सदस्य कें सरकारी नौकरी देल जायत.

नीतीश कुमार अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियमक तहत सतर्कता मीटिंग मे आदेश देलनि जे कतौ एससी-एसटी परिवार कें कोनो सदस्यक हत्या होयत अछि त’ ओहन स्थिति मे पीड़ित परिवार कें एकटा सदस्य कें नौकरी देबाक प्रावधान बनाओल जाय. सीएम नीतीश अफसर सं कहलनि जे तत्काल एकरा लेल नियम बनाओल जाय, जाहिसँ पीड़ित परिवार कें लाभ उठा सकैत.

बिहार कें विधानसभा चुनावक घोषणा होबय सं ठीक पहिने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ई निर्णय बहुत सोच क’ लेलनि. बिहारक राजनीति जातीय आंकड़ा कें आधार पर तय होयत अछि. आंकड़ाक बात करि त’ दलित वर्ग राज्य केर सत्ताक चाबी देबय मे निर्णायक भूमिका अदा क’ सकैत अछि. अहि लेल नीतीश कुमार चुनाव सं पहिने एहन कदम उठा रहल छथि.

अहाँ अपन विचार लिखु

Please enter your comment!
Please enter your name here